आलेख़

लॅाकडाऊन  और आॅनलाइन ज्ञान 

लॅाकडाऊन  और आॅनलाइन ज्ञान सच कहते हैं जब भी मुसीबतें आती है सबका दिल दहला जाती हैं, पर साथ में कुछ नई शिक्षा और ज्ञान दे जाती है अब तक थी अपने से अनजान बह रही थी अज्ञानता के धार। जब लाकडाउन आया साथ में अकेलापन और खालीपन लाया। तभी जिम्मेदारियों का नया आयाम आया, […]

Breaking News Latest News आलेख़ कैंपस ख़बरें जरा हटके झारखण्ड राष्ट्रीय लाइफस्टाइल

महामारी के इस दौर में योग के चिकित्सीय पक्ष को गंभीरता से लिया जाना चाहिए : डॉ परिणीता सिंह ( योग विशेषज्ञ )

रांची, झारखण्ड | अप्रैल  | 25, 2021 :: * योग की हर पद्धति द्वारा इस वैश्विक महामारी से अपना बचाव किया जा सकता है । * आसन और प्राणायाम द्वारा शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। * भस्त्रिका द्वारा फेफड़ों को अधिक क्रियाशील बनाया जा सकता हैं । * नाड़ी शोधन द्वारा समस्त कोशिकाओं में […]

आलेख़ लाइफस्टाइल

कोरोना वायरस से बचने के लिए सैनिटाइजर का कार्य करेगा योग और भाप :: योगाचार्य प्रहलाद भगत

रांची, झारखण्ड | अप्रैल  | 18, 2021 :: कोविड-19 या कोरोना वायरस से इस समय बचने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क और हैंड वॉश बहुत जरूरी है। इसके अलावा प्रिकॉशन के लिए आपको आयुर्वेदिक काड़ा, भाप और गरम पानी पीने के अलावा प्रतिदिन योग करना चाहिए जिससे आपकी इम्युनिटी बूस्ट होगी। इस बार  कोरोना का […]

आलेख़

ज्ञान क्या है : अर्पणा सिंह

ज्ञान क्या है : अर्पणा सिंह मन में एक सवाल उठता है ज्ञान क्या है ? उसका वजूद क्या है? फिर अंतर्मन से आवाज आती है अरे मूर्ख, ज्ञान ही तो वह साधन है जो हमें हर दुख परेशानियों के भवसागर से पार उतारता है, चाहे राहों में कितनी ही परेशानियों कि अटकलें हो क्योंकि […]

आलेख़ लाइफस्टाइल

कोराना काल में होम्योपैथी का अहम रहा योगदान : डॉ राजीव कुमार

होम्योपैथिक चिकित्सा पद्धति है जो समानता के आधार पर काम करती हैं! इसके जनक सैम्यूल हैनिमैन है जिन्होंने इसकी शूरुआत 1796 मे जर्मनी मे हूई थी! यह सिमिलिया सिमिलीबस क्यूरेन्टर के सिद्धांत पर काम करता है !इसका मतलब यह है कि होम्योपैथी उस बिमारी को ठीक कर सकती है जिन्हें वह उत्पन्न करने की क्षमता […]

आलेख़

नमस्ते शब्द संस्कृत के नमस शब्द से निकला है, जिसका अर्थ है एक आत्मा का दूसरी आत्मा से आभार प्रकट करना

  नमस्ते या नमस्कार मुख्यतः हिन्दुओं और भारतीयों द्वारा एक दूसरे से मिलने पर अभिवादन और विनम्रता प्रदर्शित करने हेतु प्रयुक्त शब्द है। इस भाव का अर्थ है कि सभी मनुष्यों के हृदय में एक दैवीय चेतना और प्रकाश है जो अनाहत चक्र (हृदय चक्र) में स्थित है। यह शब्द संस्कृत के नमस शब्द से निकला है। इस भावमुद्रा का […]

आलेख़

अपनी सेहत को लंबे समय तक अच्छा बनाये रखने के लिए हमें स्वयं ही प्रयासरत रहना होगा

विश्व स्वास्थ्य दिवस ( 7 अप्रैल ) पर विशेष। गुड़िया झा। अपनी सेहत को लंबे समय तक अच्छा बनाये रखने के लिए हमें स्वयं ही प्रयासरत रहना होगा। जिस प्रकार से हम अपने जीवन में और सभी चीजों के लिए योजना बनाते हैं। ठीक उसी प्रकार से जीवन को पूरे जोश के साथ जीने के […]

आलेख़

गांव के बाल वैज्ञानिक ने बनाया स्मार्ट डस्टबिन

प्रतिभा की कोई उम्र नहीं होती है। छोटी उम्र में भी नौनिहालों को यदि उपयुक्त शिक्षा, परिवेश व सुविधा मिले, तो वह भी अपनी प्रतिभा से देश और दुनिया में नाम रोशन कर सकते हैं। इसके लिए घर-परिवार से ही नौनिहालों के बालमन को बारीकी से समझना होगा। उनकी हरेक गतिविधियों को मनोवैज्ञानिक ढंग से […]

आलेख़

लॉकडाउन के एक वर्ष और भारतीय एकता की मिशाल : गुड़िया झा

लॉकडाउन के एक वर्ष और भारतीय एकता की मिशाल। गुड़िया झा। बीते वर्ष इन्हीं दिनों जिस लॉकडाउन की शुरुआत हुई थी, उससे हम आज तक आजाद नहीं हुए हैं। सम्पूर्ण लॉकडाउन की अवधि चार बार बढ़ाई गई थी और उसके बाद से अब तक अनलॉक होने का सिलसिला चल रहा है। इस बीते हुए एक […]

आलेख़

कैसे करें शुरुआत होली की

कैसे करें शुरुआत होली की त्योहारों का असली मज़ा तो अपनों के साथ ही आता है , ऐसा बहुत बार सुना होगा आपने भी, परन्तु यह सत्य है। अपनों के साथ जो ख़ुशी होती त्यौहार की , उसका मज़ा ही कुछ और होता है। कहते है ना आप बहुत कुछ जीवन में प्राप्त कर लो […]