Latest News कैंपस झारखण्ड

कलाकृति के समर आर्ट कैम्प का तीसरा दिन रहा डांस के नाम  

राँची, झारखण्ड । मई | 27, 2017 :: कलाकृति स्कूल ऑफ़ आर्ट्स एवं कलाकृति आर्ट फाउंडेशन द्वारा डोरंडा एवं हटिया केन्द्रों के बच्चों के लिए चार दिवसीय “समर आर्ट कैंप” तीसरे दिन शनिवार को बच्चों ने की खूब मस्ती |

इस कार्यक्रम में 5 वर्ष से 16 वर्ष के बच्चें भाग ले रहे हैं | तीन वर्गों में विभाजित शिविर में आज बच्चों को गोल्ड्स गिम रांची के एरोबिक्स एंड डांस प्रशिक्षक  विजय कुमार के द्वरा डांस एंड एरोबिक्स की ट्रेनिंग दी गयी | उन्होंने बच्चों को बताया की कैसे बच्चे डांस और एरोबिक्स के सहयता से अपनी फिटनेस और हेल्थ को अच्छा रख सकते हैं | बच्चों ने बॉलीवुड के कई हिट नंबर्स जैसे बद्री की दुल्हनिया, काला चश्मा जैसे गाने पर डांस करना सिखा | इसके बाद क्राफ्ट की शिक्षिका श्रीमती डेज़ी सिन्हा के द्वरा इंस्टेंट बंधिनी वर्क, मुरल वर्क सिखया गया | इस अवसर पर संस्था के निदेशक एवं कला शिक्षक  धनंजय कुमार के द्वारा बच्चों को छतीसगढ़ की ट्राइबल आर्ट गोंड पेंटिंग एवं महाराष्ट्र के वरली आर्ट का प्रशिक्षण दिया गया | इसके अलावा अब्स्तार्ट पेटिंग, स्पीड पेंटिंग , फोटो फ्रेम जैसे विभिन्न कलाकृतियाँ बनाने की कला सिखाई गयी | सभी बच्चों के बिविन्न मनोरंजक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया था | बच्चों के लिए लगाये गए जम्पिंग झूले में बच्चों ने जम कर मस्ती की एवं बच्चों ने जम कर डांस भी किया |

समर आर्ट कैंप के अंतिम दिन रविवार को शिविर में बनाई गयी कृतियों की प्रदर्शनी एवं पुरुस्कार वितरण समारोह का आयोजन किया गया है | पुरुस्कार वितरण समारोह दोपहर 1 बजे संपन्न होगी |

इस कार्यक्रम को सफल बनाने कलाकृति संस्था की सचिव रजनी कुमारी, कलाकृति आर्ट फाउंडेशन के अध्यक्ष रवि शंकर गुप्ता एवं कला शिक्षिका अकबर, रूबी, आरती, कोमल, शुभम, तन्वी एवं हर्षिता, हर्ष, शिखा, विकास, सना आदि का योगदान रहा |

कलाकृति स्कूल ऑफ़ आर्ट्स डोरंडा कन्या पाठशाला में विगत 16 वर्षों से प्रतेक से विभिन्न वर्गों के छात्र छात्राओं को चित्रकला की शिक्षा प्रदान करती है | कोई भी इछुक छात्र छात्राएं किसी भी समय संस्था में दाखिला ले सकते हैं | यह जानकारी  कलाकृति स्कूल ऑफ़ आर्ट्स के निदेशक एवं कला शिक्षक धनंजय कुमार ने दी |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *