आलेख़ झारखण्ड

जगदीश से जानिए क्या है ओलचिकी लिपि

रांची, झारखण्ड | फरवरी | 27, 2019 :: ओलचिकी एक भारतीय लिपि है जो संथाली भाषा लिखने में प्रयुक्त होती है। संथाली, हो और मुंडारी भाषाएँ आस्ट्रो-एशियाई भाषा परिवार में मुंडा शाखा में आती हैं। संताल भारत, बांग्लादेश, नेपाल और भूटान में लगभग ६० लाख लोगों से बोली जाती है। उसकी अपनी पुरानी लिपि का नाम ‘ओल चिकी’ है। अंग्रेजी काल में संथाली रोमन में लिखी […]

आलेख़

जगदीश से जनिये, क्या है उद्गीत प्राणायाम

उद्गीत प्राणायाम को “ओमकारी जप” भी कहा जाता है। यह एक अति सरल प्राणायाम और एक प्रकार का मैडिटेशन अभ्यास है। उद्गीत प्राणायाम प्रति दिन सुबह में करने से व्यक्ति को कई शारीरिक और आध्यात्मिक लाभ प्राप्त होते हैं। उद्गीत प्राणायाम चिंता, ग्लानि, द्वेष, दुख, और भय से मुक्ति दिलाता है। इस प्राणायाम के अभ्यास से ध्यान-शक्ति बढ़ […]

आलेख़ लाइफस्टाइल

जगदीश से जानिए कैसे करें शरीर में तेल की मालिश

तेल मालिश करने के लिए सबसे पहले नाभि में तेल लगाना चाहिए। नाभि में तेल डालने से सर्दी जुकाम नहीं होता है। उसके बाद हाथ और पैर के नाखूनों में तेल लगाना चाहिए। हाथ-पैर में मालिश नीचे से ऊपर की तरफ करनी चाहिए। पीठ में भी मालिश नीचे से ऊपर की तरफ करनी चाहिए। गर्दन […]

आलेख़ ख़बरें जरा हटके राष्ट्रीय लाइफस्टाइल

यदि आप योगाभ्यास कर रहे हैं तो जगदीश से जानिए क्या खाएं अथवा क्या ना खाएं

योगिक शास्त्र के अनुसार भोजन को दो भागों में बांटा गया है पहला पथ्य दूसरा अपथ्य पथ्य भोजन योगियों द्वारा खाए जाने वाले योग्य पदार्थ है अपथ्य भोजन योगियों द्वारा वर्जित पदार्थ अपथ्यकारक भोजन : यदि आप योगाभ्यास कर रहे हैं तो निम्नलिखित प्रकार के भोजन का सेवन नहीं करें। यदि करते हैं तो इससे अभ्यास […]

Breaking News Latest News आलेख़ ख़बरें जरा हटके राष्ट्रीय

इतिहास में आज :: स्वामी शिवानन्द सरस्वती का जन्म ( 8 सितम्बर )

    इतिहास में आज :: स्वामी शिवानन्द सरस्वती का जन्म ( 8 सितम्बर ) स्वामी शिवानन्द सरस्वती (१८८७-१९६३) वेदान्त के महान आचार्य और सनातन धर्म के विख्यात नेता थे। उनका जन्म तमिल नाडु में हुआ पर संन्यास के पश्चात उन्होंने जीवन ऋषिकेश में व्यतीत किया। स्वामी शिवानन्द का जन्म अप्यायार दीक्षित वंश में 8 सितम्वर 1887 को तमिलनाडु के पट्टामड्डई ग्राम में हुआ था। उन्होने […]

Sunset
Breaking News Latest News आलेख़ ख़बरें जरा हटके झारखण्ड राष्ट्रीय लाइफस्टाइल

जगदीश से जानिए सूर्यास्त के बाद क्यों न खाएं खाना

ऐसा माना जाता है कि सूर्यास्त के बाद खाना नहीं खाना चाहिए. जैन धर्म के लोग इस नियम का पालन भी करते हैं. आयुर्वेद की मानें तो सूर्यास्त से पहले खाना खा लेना चाहिए. जबकि कुछ चीजें ऐसी हैं जिन्हें खाने से परहेज करना चाहिए. मुख्य कारण – सूर्यास्त से पहले खाना खाने से भोजन […]

आलेख़ लाइफस्टाइल

जगदीश से जाने क्या है, राजसिक भोजन

जो भोजन व्यक्ति को स्फूर्ति और उत्तेजना प्रदान करता है वह राजसिक भोजन की श्रेणी में आता है। वो भोजन जो या तो बहुत खट्टा, गर्म, मीठा या फिर रूखा होता है वह राजसिक कहा जाता है। राजसिक भोजन काफी उत्तेजक होता है, इसका सेवन व्यक्ति को कामुक और आवेशपूर्ण बनाता है लेकिन इस प्रकार […]

आलेख़

जगदीश से जानिए कितने प्रकार के होते हैं दुःख

महर्षि पतंजलि द्वारा लिखित योग दर्शन के अनुसार दुःख तीन प्रकार के होते हैं, पहला आध्यात्मिक, दूसरा आधिभौतिक और तीसरा आधिदैविक। काम क्रोध के कारण व्याधि आदि के कारण या इंद्रियों में किसी प्रकार की विकलता होने के कारण जो मन, इंद्रिय या शरीर में ताप या पीड़ा होती है, उसको आध्यात्मिक दुख कहते हैं […]

आलेख़

जगदीश से जानिए क्यो करते है तीन बार ओम का उच्चारण

जगदीश से जानिए क्यो करते है तीन बार ओम का उच्चारण ओम का उच्चारण तीन बार करने से तीन प्रकार से उत्पन्न बाधाओं में शांति मिलती है। ये है वे तीन बाधाएं है। आदि भौतिक- भौतिक समस्याओं जैसे दुर्घटना, अपराध, मानवीय संपर्क, अंदरूनी आदि बाधाओं के लिए ओम का उच्चारण बोलते हैं जिससे माना जाता […]

Latest News आलेख़ कैंपस

पीजी दर्शनशास्त्र विभाग में मना अन्तरराष्ट्रीय महिला दिवस

राँची , झारखण्ड । मार्च | 08, 2018 :: आज दिनांक 08 मार्च 2018 को रांची विश्वविद्यालय के पीजी दर्शनशास्त्र विभाग में अन्तरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया गया। इस वर्ष अन्तरराष्ट्रीय महिला दिवस का केन्द्रीय थीम है ‘‘च्तमेे वित च्तवहतमेे’’। इस कार्यक्रम के माध्यम से विद्यार्थियों को समाज में महिलाओं की उपलब्धियाँ और योगदान के बारे […]